spot_img

धनबाद: कलयुगी भाई ने ही की थी बहन के पति की हत्या

Reported by: बिपिन कुमार 

धनबाद।

एक भाई जब अपनी बहन से कलाई पर राखी बंधवाता है तो वह भाई जन्म-जन्म तक उसके सुहाग और उसकी रक्षा करने का प्रण लेता है. लेकिन एक कलयुगी भाई ने अपनी ही बहन का सुहाग उजाड़ कर भाई बहन के इस रिश्ते को कलंकित कर डाला। बहन के सुहाग उजड़ने की वजह पुलिस जीजा और साले की बीच आपसी रंजिश बता रही है।  

क्या है मामला: 

निरसा के रहने वाले कलयुगी भाई का नाम पप्पू पंडित है। पप्पू की बहन के पति यानी उसका जीजा बिनोद सिंह बिहार के मुंगेर जिले का रहनेवाला था। 14 अक्टूबर को पप्पू अपने एक दोस्त के साथ अजबडीह माँ दुर्गा कोक प्लांट पंहुचा। इस कोक प्लांट में बिनोद काम करता था. यहां से पप्पू अपने दोस्त के साथ जीजा बिनोद सिंह को मुर्गा फार्म के पास ले गया। तीनो ने मिलकर यहां शराब पिया। शराब पीने के बाद बिनोद नशे में सो गया। बिनोद को उसी स्थान पर सोते हुए छोड़कर पप्पू अपने साथी कइला को रेलवे स्टेशन से भागलपुर जाने वाले बस में बैठाकर रवाना कर दिया। पप्पू अपने साथी को बस बैठाने के बाद वापस मुर्गाफार्म पहुंचा जहां नशे की हालत में बिनोद सोया हुआ था। इससे पहले की बिनोद पूरी होश में आता पप्पू ने  पत्थर से कुचलकर उसकी ह्त्या कर दी.

जीजा-साले की रंजिश में हुई हत्या: 

ह्त्या के बाद पप्पू खुद थाना पहुंचा और झूठे बयान के आधार पर पुलिस में कांड दर्ज करवाया। पूछताछ के क्रम में पप्पू ने पुलिस के समक्ष ह्त्या करने की बात स्वीकार की है. पुलिस इस ह्त्या के पीछे जीजा और साले की आपसी रंजिश बता रही है। पकडे गए अपराधी पप्पू पंडित के पास से पुलिस ने एक मोबाईल फोन के साथ खून से सना पत्थर भी बरामद किया है।    

बरवाअड्डा थाना के काशियाटांड़ की घटना: 

जिले के बरवाअड्डा थाना अंतर्गत काशीटांड़ पानी टंकी के समीप 15 अक्टूबर को एक अज्ञात शव बरामद हुआ था. जिस के संदर्भ में मृतक के साला वादी पप्पू पंडित के लिखित बयान के आधार पर बरवाअड्डा थाना में कांड संख्या 207/18 धारा 302 के तहत अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध कांड अंकित किया गया था. इसके बाद  पुलिस ने एक टीम गठित कर अनुसंधान प्रारंभ किया था. जिसका खुलासा आज पुलिस ने किया है।      

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!