Global Statistics

All countries
529,364,875
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am
All countries
485,723,786
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am
All countries
6,304,937
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am

Global Statistics

All countries
529,364,875
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am
All countries
485,723,786
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am
All countries
6,304,937
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 2:47:46 am IST 2:47 am
spot_imgspot_img

चितरंजन कारखाना ने देश को दिया पहला एयरोडायनेमिक इंजन,अब 200 किमी की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें


जामताड़ा।

चितरंजन रेल कारखाना ने पहला एयरोडायनेमिक डिजाइन युक्त 200 किलोमीटर प्रति घंटा क्षमता वाले विद्युत इंजन का निर्माण किया है। 

चितरंजन रेल कारखाना द्वारा बनाए गए अब तक के रेल इंजन में सबसे नवीनतम तकनीकी रेल इंजन है। डब्लू ए पी 5 नामक रेल इंजन को बनाकर यात्री वाहन के लिए भेजा गया। इस रेल इंजन में नए एयरोडायनामिक डिज़ाइन की वजह से हवा के प्रतिरोध को कम करने एवं उच्च गति पर स्थिरता में वृद्धि तथा एर्गोनॉमिकल (क्षैतिज) डिज़ाइन में संशोधन कर लोको पायलट के कौशल विकास में सहायता प्रदान होगी।

इसके आलावा, गियर पुर्जों में संशोधन कर इसे अधिकतम 200 किलोमीटर प्रति घंटा की गति क्षमता का बनाया गया है। रेलइंजन के अंदर और बाहर महत्वपूर्ण स्थानों में माइक्रोफ़ोन सहित कैमरे लगाये गए हैं जिसमें डिजिटल प्रारूप में डेटा संग्रहित करने के साथ पोस्ट इवेंट विश्लेषण के लिए आवाज और ऑडियो सिग्नल रिकॉर्ड का जा सकेगी।

इस रेल इंजन का उपयोग भारतीय रेल में प्रतिष्ठित रेलगाड़ियों जैसे राजधानी एक्सप्रेस, गतिमान एक्सप्रेस एवं शताब्दी एक्सप्रेस चलाने  हेतु उपयोग में लाया जायेगा।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!