Global Statistics

All countries
347,578,180
Confirmed
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm
All countries
274,764,477
Recovered
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm
All countries
5,605,386
Deaths
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm

Global Statistics

All countries
347,578,180
Confirmed
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm
All countries
274,764,477
Recovered
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm
All countries
5,605,386
Deaths
Updated on Saturday, 22 January 2022, 9:43:54 pm IST 9:43 pm
spot_imgspot_img

20 दिनों से बंद है इस स्कूल में MDM, दो सालों से नहीं मिला है बच्चों को पोशाक

Reported by: उपेंद्र कुमार 

देवघर/देवीपुर।

देवघर जिले के देवीपुर प्रखंड स्थित प्लस टू उत्क्रमित उच्च विद्यालय सिमरा खास में पिछले 20 दिनों से एमडीएम बंद है.

20 दिनों से एमडीएम बंद: 

20 दिनों से एमडीएम बंद ही नहीं, जब से सरकार द्वारा बच्चों को पौष्टिक आहार मिले इसके लिए मध्यान भोजन में अंडा और फल दिये जाने का निर्देश दिया गया है. तब से लेकर आजतक इस विद्यालय में एक भी बच्चों को खाने को तो दूर अंडा और फल एमडीएम में दिखा तक नहीं है.

दो सालों से नहीं मिला बच्चों को पोशाक: 

इसके साथ ही दो सालों से स्कूल में बच्चों को उनका पोशाक यानि स्कूल ड्रेस तक वितरीत नहीं किया गया है. नतीजा… मजबूरन बच्चे अपने घर के पोशाक को पहन स्कूल आते हैं.

सचिव पर मनमानी का आरोप: 

आरोप है कि विद्यालय के सचिव की मनमानी रवैये के कारण बच्चों के लिए चलायी जा रही सरकारी योजनाएं यहां मुंह चिढ़ा रही है. सवाल यह भी है कि बच्चों को पोशाक न मिलना, एमडीएम में मनमानी करना और अब 20 दिनों से एमडीएम का बंद होना. क्या इन सबपर निगरानी रखने वाला कोई नहीं है.

शिक्षा विभाग मौन:

जबकि सरकार द्वारा इसकी निगरानी के लिए संकुल स्तरीय कार्यालय खोला गया है. जो इस विद्यालय परिसर में ही अवस्थित है. लेकिन आज तक संकुल में कार्यरत सीआरपी द्वारा इसकी सूचना बीआरसी या जिला स्तर पर नहीं दी गयी है. इस प्रकार देखा जाए तो सचिव द्वारा सरकार के आदेशों की अनदेखी कर विद्यालय को चलाया जा रहा है. जिसे देखते हुए भी शिक्षा विभाग मौन है.

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!