Global Statistics

All countries
352,659,476
Confirmed
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm
All countries
278,177,312
Recovered
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm
All countries
5,616,427
Deaths
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm

Global Statistics

All countries
352,659,476
Confirmed
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm
All countries
278,177,312
Recovered
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm
All countries
5,616,427
Deaths
Updated on Monday, 24 January 2022, 8:57:12 pm IST 8:57 pm
spot_imgspot_img

विकास के नए आयाम गढ़ता आदर्श ग्राम पंचायत डिंडाकोली,सांसद निशिकांत ने लिया है गोद

N7India.comTeam 

देवघर।

झारखंड राज्य की सांस्कृतिक राजधानी देवघर से मिलों दूर बसा करौं प्रखंड स्थित डिंडाकोली पंचायत..जहां इन दिनों विकास की बयार तेज़ी से बह रही है. इस पंचायत में 12 गांव है. ज्यादातर गांव में सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, कृषि के अलावा हर वो जनकल्याणकारी योजनाएं शत-प्रतिशत लोगों तक पहुंची है. जिसका इंतजार यहां के लोगों को सालों से था. 

2016 में सांसद ने लिया गोद:

डिंडाकोली पंचायत को आदर्श बनाने के लिए गोड्डा सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे ने साल 2016 के अगस्त माह में गोद लिया था. गोद लेते ही सांसद ने यहां के लोगों के बीच मुलभूत सुविधाओं को पहुंचाने की कोशिश शुरू कर दी. यही वजह है कि दो साल में इस गांव की तस्वीर बदल गयी और यह सिलसिला अभी भी जारी है. आज की तारिख में सांसद निशिकांत की पहल से ज्यादातर विकास कार्य इस पंचायत में पूरे हो चुके हैं. और, आज यह पंचायत आदर्श पंचायत के हर मापदंड पर खरा उतरने को तैयार है.

शुरूआत सड़क से करें:

शहर से जुड़ने के लिए ग्रामीणों के बीच एक सही सड़क का होना जरूरी है तो अभी हाल ही में करोंड़ों की लागत से पक्की सड़क का निर्माण गांव में कराया गया है. साथ ही प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत ज्यादातर गांव में आने-जाने के लिए पथ निर्माण कराया जा चुका है. गांव को सड़क से जोड़ने के लिए नाले-नदियों पर पूल का निर्माण कराया जा चुका है. झारखंड सरकार राज्य सम्पोषित योजना के तहत कई किलोमीटर तक पथ निर्माण कार्य कराया गया है.14वें वित्त आयोग द्वारा पंचायत मुख्यालय से जोड़ने के लिए भी गांवों को पीसीसी सड़क के जरीये जोड़ा जा रहा है. 

किसानों के हित में हुए कार्य:

कृषि के क्षेत्र में भी किसानों के हित में कार्य हुए है. झारखंड सरकार कृषि पशुपालन एवं सहकारिता भूमि संरक्षण विभाग द्वारा कई जगहों पर तालाब का जीर्णोधार किया गया है. साथ ही सिंचाई के लिए बड़े-बड़े नाले पर चेक डैम और कुंआ का निर्माण कराया गया है. ताकि किसान अपने खेतों में पटवन कर अच्छी फसल का पैदावार कर सकें. यही कारण है कि बेलकियारी गांव में बना चेकडैम इस बार बारिश न होने के बाद भी किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है. किसानों के बीच पम्पसेट का वितरण किया गया है. वहीं किसानों की आमदनी दोगुनी हो सके इसके लिए कई किसानों को ब्रायलर मुर्गी फार्म, बकरी पालन ,बत्तख पालन सहित कई योजनाओं का लाभ भी दिया जा रहा है. इतना ही नहीं कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा पंचायत के किसानों को तकनीकी प्रशिक्षण भी समय-समय पर दिया जाता है ताकि किसानों की आय दोगुनी हो सके. नेशनल फूड सेक्यूरिटी मिशन के तहत किसानों के बीच बिज वितरण और शत-प्रतिशत किसानों का स्वाॅयल हेल्थ कार्ड का निर्माण किया जा चुका है. 

पेयजल की अब मिल रही सुविधा: 

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा वाटर फिल्ट्रेशन प्लांट का निर्माण डिंडाकोली पंचायत भवन के पास ही करा दिया गया है. साथ ही ड्रिंकिंग वाटर के लिए पाइप लाइन का कार्य भी पंचायत में शुरू हो चुका है. जिसे सभी गांव तक पहुंचाया जा रहा है. कुछ गांव के ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मुहैया भी हो रहा है. बाकि कार्य तेज़ी से जारी है. सभी गांव में पेयजल की सुविधा के लिए चापानल लगाया जा चुका है. जिससे अब ग्रामीणों को पानी लाने दूर-दराज नदियों की ओर रूख नहीं करना पड़ता है. वहीं.. लक्षणाडीह गांव में 4 करोड़ की लागत से पेय जलापूर्ति योजना की शुरूआत होने जा रही है. 

सभी घरों में पहुंची बिजली:

सांसद आदर्श ग्राम पंचायत में बिजली व्यवस्था दुरूस्त रहे इसके लिए झारखंड सरकार बिजली वितरण निगम लिमिटेड द्वारा भलगढ़ा में 33/11 केवी विद्युत शक्ति उपकेन्द्र यानि पावर ग्रीड का निर्माण कराया जा रहा है. हर गांव में 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगा दिया गया है. सौभाग्य योजना और अटल ज्योति योजना के तहत सभी घरों तक बिजली पहुंच चुकी है. 

ग्रामीणों को मिल रहा स्वास्थ्य लाभ:

सांसद आदर्श ग्राम पंचायत डिंडाकोली के भलगढ़ा गांव में बनें स्वास्थ्य उपकेन्द्र में प्रतिदिन एएनएम और सप्ताह में एक दिन डाॅक्टर आतें हैं. जिससे ग्रामीणों को स्वास्थ्य लाभ भी मिल रहा है.

माॅडल आंगनबाड़ी केन्द्र और स्कूल बनकर तैयार:

पंचायत में माॅडल आंगनबाड़ी केन्द्र सहित माॅडल स्कूल भी बनकर तैयार है. यहां के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जा रही है. भारती फाउंडेशन द्वारा एजुकेशन में क्वालिटी एंड क्वांटिटी बच्चों को दी जा रही है. सांसद आदर्श ग्राम पंचायत के बच्चे टेक्निकल क्षेत्र में भी अपनी शिक्षा ले सके इसके लिए आईटीआई काॅलेज का शिलान्यास किया जा चुका है. जहां पर जोर शोर से कार्य जारी है. जल्द ही काॅलेज का निमार्ण कार्य पूरा हो जाएगा और उसके बाद इलाके के बच्चों को आईटीआई की पढ़ाई करने के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा.

खेल के लिए भव्य स्टेडियम: 

इलाके के बच्चों में खेल के प्रति रूझान हो सके. इसके लिए डिंडाकोली पंचायत भवन के सामने भव्य स्टेडियम का निर्माण कराया गया है. यहां बच्चे आकर हर रोज खेल की प्रैक्टिस कर सकते हैं. 

नाबार्ड ने भी किया कार्य:

डिंडाकोली पंचायत के भलगढ़ा गांव के नजदीक नाबार्ड द्वारा ग्रामीण हाट को लेकर सामुदायिक शौचालय का निर्माण करा दिया गया है और शेड का कार्य प्रारंभ किया जा रहा है. जिला परिषद द्वारा डिंडाकोली में सामुदायिक भवन का निर्माण कराया जा चुका है. 

ग्रामीणों को मिल रहा योजनाओं का लाभ: 

शत-प्रतिशत प्रधानमंत्री आवास सभी परिवार को मिले इसके लिए कार्य किया जा रहा है. आयुष्मान भारत, मिशन इंद्रधनुष, जीवन ज्योति बीमा योजना, सुरक्षा बीमा योजना, एनआरएलएम, अन्त्योदय योजना, स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा और उज्जवला योजना का लाभ सभी योग्य लाभुकों तक पहुंचाया जा रहा है.  नेशनल ओल्ड एज पेंशन स्कीम, नेशनल विडो पेंशन स्कीम, नेशनल डिजबलिटी पेंशन स्कीम, नेशनल फैमिली बेनिफीट स्कीम का लाभ भी योग्य लाभुकों तक पहुंचाने की हर मुमकिन कोशिश की जा रही है. 

महिलाएं हो रही स्वावलम्बी:

ग्रामीणों को योजनाओं का लाभ देने के लिए प्रज्ञा केंद्र और बैंकिंग सुविधा का लाभ लेने के लिए सीएसपी पंचायत भवन सहित गांव में बनाया गया है. दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत एसएचजी ट्रेनिंग महिलाओं को दी जा रही है. ताकि गांव की बहु-बेटियां स्वरोजगार से जुड़ कर आत्मनिर्भर बन सकें. 

सांसद के पहल की सराहना: 

सांसद आदर्श ग्राम पंचायत डिंडाकोली में दो साल के दरम्यान जो कार्य किये गये हैं. वह वाकई काबिले तारिफ है. सांसद द्वारा पंचायत को गोद लेने के बाद हुए कार्य से आज यहां के ग्रामीण भी काफी उत्साहित हैं और सांसद निशिकांत को भूरी-भूरी धन्यवाद कहते नहीं थकते। 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!