Global Statistics

All countries
178,606,671
Confirmed
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am
All countries
161,410,248
Recovered
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am
All countries
3,867,057
Deaths
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am

Global Statistics

All countries
178,606,671
Confirmed
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am
All countries
161,410,248
Recovered
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am
All countries
3,867,057
Deaths
Updated on Saturday, 19 June 2021, 11:22:45 am IST 11:22 am
spot_imgspot_img

पहले बेचता था तोता, अब करोड़ों की संपत्ति का मालिक, पुलिसिया रडार पर दो पूर्व नक्सली

Reported by: आशुतोष श्रीवास्तव 

गिरिडीह।

गिरिडीह में शीर्ष नक्सलियों के नाम पर वसूले गये लेवी के रुपये से दो पूर्व नक्सलियों मनोज चौधरी और झरीलाल महतो के विरुद्ध क़ानूनी कार्रवाई शुरू हो गयी है. दोनों ने गिरिडीह के विभिन्न स्थानों में करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है.

झरीलाल महतो के अचल सम्पति को पुलिस ने कब्ज़े में लिया:

गिरिडीह पुलिस ने आज झरीलाल महतो के अचल सम्पति को चिन्हित कर सरकारी तख्ती लगाकर इसे अपने कब्जे में ले लिया। कल से मनोज चौधरी के चल-अचल सम्पति को जप्त करने की कार्रवाई की जाएगी। बताया जाता है कि मनोज चौधरी पहले तोता बेचा करता था. करोड़ों की संपत्ति होने के बावजूद वह बीपीएल कार्डधारी है. पुलिसिया राडार में आये दोनों पूर्व नक्सलियों ने गिरिडीह के शीर्ष नक्सलियों के नाम पर वसूले गये लेवी के रुपये को विभिन्न स्थानों पर जमीन और घर बना कर निवेश करने का काम किया है. इस मामले को लेकर पूर्व में मधुबन थाना में केस भी दर्ज किया गया था.  

लेवी के पैसे से संपत्ति अर्जित:

बताया जाता है कि अजय महतो, राम दयाल महतो, नुनुचंद महतो व पतिरम मांझी के लेवी के पैसे से मनोज चौधरी व झरी लाल महतो द्वारा मुधबन, गिरिडीह, पीरटांड़, डुमरी सहित अन्य स्थानों पर बड़ी मात्रा में संपत्ति अर्जित की है. जानकारी यह भी है कि पीरटांड़ थाना क्षेत्र के बलकरी निवासी मनोज चौधरी व निमियाघाट थाना क्षेत्र के नगली निवासी झरी लाल महतो नक्सली अजय महतो, राम दयाल महतो व नुनुचंद के करीबी हैं. 

 दोनों के खिलाफ हुआ था मामला दर्ज: 

मनोज चौधरी के खिलाफ निमियाघाट थाना में वर्ष 2008 में दो केस नक्सली और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत केस दर्ज हुआ था. वहीं दूसरी ओर झरीलाल महतो के खिलाफ भी पीरटांड़ थाना में वर्ष 1999 और वर्ष 2008 में नक्सली और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत एक-एक केस दर्ज किया गया था. 

खरीदी करोड़ों की संपत्ति: 

बताया जाता है कि शीर्ष नक्सली रामदयाल के लेवी के पैसे से मनोज द्वारा दूसरे के नाम पर बजरंगबली मंदिर के पीछे  छह डिसमिल जमीन पर बना तीन मंजिला मकान, जिसमें मनोज चौधरी परिवार के साथ रहता है. महिला कॉलेज रोड  छह डिसमिल जमीन पर दो मंजिला मकान, जिसमें किरायेदार रहते हैं. श्रीरामपुर मां हाइटेक स्टील प्राइवेट लिमिटेड के नाम से छह एकड़ जमीन खरीदी है. 

झरीलाल महतो द्वारा अपने नाम पर खरीदी गयी संपत्ति का विवरण:

घुटवाली -झरी लाल महतो  झारखंड कॉलेज डुमरी के बगल में 176 डिसमिल जमीन 
बिरनगढ़ा – झरी लाल महतो के नाम पर छह डिसमिल जमीन 
बिरनगढ़ा- झरी लाल महतो के नाम पर तीन डिसमिल जमीन 

राम दयाल महतो के नाम पर वसूले गये रुपये से झरीलाल द्वारा खुद और परिवार के नाम पर खरीदी गयी संपत्ति का विवरण 

घुटवाली-  दुकनी देवी  झारखंड कॉलेज के बगल में 110 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – अपनी मां टुकनी देवी के नाम पर  झारखंड कॉलेज के बगल में 110 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – चौहन्नी देवी  झारखंड कॉलेज के समीप 15 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – गणेश महतो  झारखंड कॉलेज के पास 10 डिसमिल जमीन 
घुटवाली-  छोटे भाई की पत्नी उमा देवी के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास आठ डिसमिल जमीन 
घुटवाली-  भाई कैलाश महतो के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास 100 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – चाची ललिया देवी के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास 12 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – दोस्त की बेटी बॉबी देवी के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास 22 डिसमिल जमीन 
घुटवाली – जीजा राजू महतो के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास 20 डिसमिल जमीन 
घुटवाली-  बहन यशोदिया देवी के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास 60 डिसमिल जमीन 
घुटवाली-  चचेरा भाई रामेश्वर महतो के नाम पर  झारखंड कॉलेज के पास चार डिसमिल जमीन 
बिरनगढ़ा – मां टुनकी देवी के नाम पर  तीन डिसमिल जमीन 
बिरनगढ़ा-  टुकनी देवी के नाम पर  पांच डिसमिल जमीन

मौजा जिसके नाम से संपत्ति है रकबा 

कचहरी टावर चौक-  मनोज चौधरी  छह डिसमिल जमीन 
स्टेशन के सामने सावन बहार रेस्टोरेंट – मनोज चौधरी  छह डिसमिल जमीन पर बना तीन मंजिला अर्धनिर्मित मकान 
मधुबन-  मनोज चौधरी और उसके माता-पिता के नाम पर मधुबन पुराना ओपी के बगल में छह डिसमिल जमीन 
मधुबन-  मनोज चौधरी  फोरेस्टर चेकनाका के पास 44 डिसमिल जमीन 
मधुबन-  मनोज चौधरी प्रकाश भवन के समीप 86 डिसमिल जमीन 
मधुबन-  मनोज चौधरी और उसके परिवार के नाम पर  31 डिसमिल जमीन 
मधुबन-  मनोज चौधरी  छह डिसमिल जमीन 
मधुबन-  मनोज चौधरी प्रकाश भवन के समीप 164 डिसमिल जमीन 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles