spot_img

अंडरग्राउंड चल रही थी नकली शराब की फैक्ट्री, देख पुलिस के भी उड़े होश


बोकारो।

बोकारो पुलिस ने कुंडौरी में एक शराब फैक्ट्री का उदभेदन करते हुए भारी मात्रा में नकली बड़े ब्रांड का शराब बरामद करने में सफलता पायी.

फैक्ट्री में ही शराब बनाकर लेबल समेत अन्य काम किए जाते थे. मुख्य सरगना विनोद साव पुलिस के आने से पूर्व ही अपने सहयोगियों के साथ रफू-चक्कर होने में कामयाब हो गया. मुख्य सरगना के घर में कई गाड़ियां भी पुलिस को मिली है,जिसका उपयोग शराब की ढ़ुलाई मे किया जाता था. पुलिस जहां फैक्ट्री को सील कर शराब के कार्टून, रैपर, स्प्रिट समेत अन्य सामान को जप्त कर लिया.

घटना बालीडीह थाना क्षेत्र की है.बालीडीह पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि कुडौरी में शराब की फैक्ट्री में अवैध शराब का निर्माण कर बड़े कंपनियों के लेबल लगाकर यहां से शराब की खेप न सिर्फ झारखंड बल्कि बिहार समेत अन्य राज्यों में खपाए जा रहे हैं. पुलिस को मिली सूचना पर बालीडीह इंस्पेक्टर कमल किशोर के नेतृत्व में बनी टीम में बालीडीह ओपी और पुलिस लाईन से बड़ी संख्या में पुलिस जवान कंडौरी गांव पहुंचे. गांव में विनोद साव अपने घर के बगल में ही शराब बनाने का कारखाना खोल रखा था. बड़ी चलाकी से सब काम अंडर ग्राउंड तरीके से किया जा रहा था. किसी को देखने से शक भी नहीं हो रहा था.

मास्टर माइंड विनोद साव यह काम यहां संचालित तो कर ही रहा था। वहीं दो अन्य जगहो पर शराब बनाने व छुपाने का स्थान पर निर्धारित कर ऱखा था. जंगल के बीच झाड़ी में शराब बनाने के सामान कार्टून मे रखकर छुपा रखा था. ऐेसे मे पुलिस की जांच में वह स्थान भी मिला जिसे देखकर पुलिस कर्मी भी अंचभित हुए.

बताया जा रहा है कि पुलिस के आने से पहले ही सुबह पांच बजे एक गाड़ी शराब की खेप को सरगना विनोद साव और उनके आदमी गांव से निकालने में कामायाब हो गए. अनुमान लगाया जा रहा है कि शराब के 300 से अधिक कार्टूंन के शराब विभिन्न कंपनियों के मिले हैं औऱ अब पुलिस जांच में जुटी है.

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!