Global Statistics

All countries
334,811,106
Confirmed
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am
All countries
268,387,929
Recovered
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am
All countries
5,572,544
Deaths
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am

Global Statistics

All countries
334,811,106
Confirmed
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am
All countries
268,387,929
Recovered
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am
All countries
5,572,544
Deaths
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 6:14:24 am IST 6:14 am
spot_imgspot_img

14 सितम्बर को पुरस्कृत होगा देवघर का प्राथमिक विद्यालय गोपालपुर, जानें.. दिल खुश करने वाली वजह


देवघर। 

देवघर उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा आज देवघर प्रखंड अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय, गोपालपुर का अवलोकन किया गया। इस दौरान विद्यालय के बच्चों द्वारा उपायुक्त को पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया गया। तत्पश्चात उपायुक्त द्वारा विद्यालय प्रांगण एवं वहां के कक्षा के साफ-सफाई आदि का जायजा लिया गया। इस दौरान उपायुक्त ने बच्चो से विद्यालय में उपलब्ध कराई जा रही सुविधा के बारे में जानकारी प्राप्त की। इसके अलावा उपायुक्त द्वारा वहां उपस्थित छात्र-छात्राओं को स्वच्छता संबंधी महत्वपूर्ण बाते एवं स्वच्छता का महत्व और इसके पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में बताया गया।

उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा बच्चों के बीच पाठ्य सामग्री एवं चॉकलेट का वितरण किया गया। इस दौरान उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा द्वारा सभी बच्चो को बतलाया गया कि वे अपने विद्यालय एवं इसके आस-पास की स्वच्छता बनाये रखें साथ हीं अन्य लोगो को भी स्वच्छता को अपने जीवनशैली का अभिन्न अंग बनाने हेतु प्रेरित करें। स्वच्छता का संदेश घर-घर तक पहुंचने में आप बच्चों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण हैं।

उपायुक्त द्वारा बतलाया गया कि आप सब के सामुहिक सहयोग से प्राथमिक विद्यालय, गोपालपुर को राष्ट्रीय स्तर पर स्वच्छता पुरस्कार का मिलना ये हम सभी के लिए गर्व की बात है।  इस स्कूल द्वारा स्वच्छता के विभिन्न मापदंडो यथा-मिट्टी के कटाव को रोकने हेतु वृक्षारोपण, पेड़-पौधे, गीला एवं सूखा कचरा एकत्रित करने हेतु अलग-अलग रंग का कूड़ेदान, बच्चो के खेलने हेतु साफ-सुथरा खेल का मैदान, बालक-बालिका हेतु अलग-अलग शौचालय, कक्षा की समुचित साफ-सफाई, पूरे विद्यालय का रंग-रोगन तथा विद्यालय के दीवारों पर अंकित स्वच्छता संदेश आदि बच्चों को एक बेहतर माहौल प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस विद्यालय के माध्यम से पूरे गांव में स्वच्छता का संदेश पहुँच रहा हैं, जिससे लोगो को स्वच्छता का महत्त्व पता चल रहा है और वे इसके प्रति जागरूक हो रहे हैं।

उपायुक्त द्वारा आगे जानकारी दी गई कि स्वच्छता के विभिन्न मानदंडो को लेकर माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा विद्यालय को पुरस्कार के रूप मेें 1 लाख रूपये की राशि भी पूर्व में प्रदान की गयी है तथा आगामी 5 सिंतबर, 2018 को शिक्षक दिवस के अवसर पर माननीय राष्ट्रपति जी के द्वारा प्राथमिक विद्यालय, गोपालपुर के शिक्षक श्री अरविन्द राज जजवाड़े को सम्मानित किया जाएगा। साथ हीं उनके द्वारा बतलाया गया कि राष्ट्रीय स्वच्छ सर्वेक्षण के तह्त स्वच्छ विद्यालय के पुरस्कार हेतु झारखण्ड से कुल तीन विद्यालयों का चयन किया गया है, जिसमे से एक विद्यालय प्राथमिक विद्यालय, गोपालपुर है। स्वच्छता हेतु इस विद्यालय को आगामी 14 सितम्बर, 2018 को पुरस्कार दिया जाएगा। यहां के बच्चो को बेहतर शिक्षा देने एवं स्वच्छता को लेकर इस विद्यालय का चयन किया गया है। 

इस दौरान उपायुक्त द्वारा यह भी बतलाया गया कि जिला स्तर पर भी इस विद्यालय को पूर्व में कई पुरस्कार मिल चुका है एवं जिला प्रशासन पूरी तरह प्रयासरत है कि देवघर प्रखण्ड अंतर्गत सभी विद्यालय पूरे झारखण्ड में आर्दश विद्यालय बने। उन्होंने कहा कि इस हेतु जिला प्रशासन द्वारा विद्यालय को हर संभव मदद दी जा रही है। उन्होंने आगे बतलाया कि देवघर जिला अंतर्गत सभी 194 पंचायतो में आदर्श विद्यालय का निर्माण कराया जा रहा है, ताकि वहां पढ़ने वाले बच्चो को साफ-सुथरे एवं अच्छे माहौल में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराया जा सके। साथ हीं इन विद्यालयों में बिजली, पानी, शौचालय, बेंच-डेस्क की उपलब्धता, विद्यालय के चाहरदीवारी एवं कक्षा के रंग-रोगन, साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था, खेल का मैदान आदि का विशेष ध्यान रखा जा रहा है, ताकि यहां पढ़ने वाले बच्चो को सभी मूलभुत सुविधा उपलब्ध हो सके एवं उन्हेें किसी प्रकार की कठिनाईयों का सामना न करना पड़े।

उपायुक्त द्वारा बतलाया गया कि आदर्श विद्यालयो के निर्माण से जहां बच्चो को एक ओर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने में आसानी होगी, वहीं पूर्व के अपेक्षा इन विद्यालयों में बच्चो के उपस्थिति में भी वृद्धि हुई है। आगे कहा कि शिक्षा विभाग का मूल कार्य बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना है। इसके अलावा शेष कार्य द्वित्तीय कार्य है। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित कर हीं हम राष्ट्र के भविष्य को सुनहरा और उज्जवल बना सकते हैं, परंतु अक्सर ऐसा देखा जाता है कि इस पर ध्यान फोकस न कर अन्य कार्यों में लोगों का अत्यधिक समय व्यतीत होता है। इसलिए सभी शिक्षक अपना सर्वोत्तम देते हुए बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना सुनिश्चित करें। बच्चों का समग्र विकास हीं हमारा लक्ष्य है एवं ऐसे में हमारे पास जो संसाधन उपलब्ध है, उसका सदुपयोग कर हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं। साथ हीं उनके द्वारा कहा गया कि सभी विद्यालयों में छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ-साथ अन्य ज्ञानवर्धक बातों की जानकारी भी दी जाए।

 मौके पर उपरोक्त के अलावा जिला शिक्षा अधीक्षक छट्टू विजय सिंह, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी रवि कुमार, प्राथमिक विद्यालय, गोपालपुर के शिक्षक, शिक्षकेत्तर कर्मी एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थें।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!