spot_img

रिश्वत लेते हुए ACB के हत्थे चढ़े दुमका सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी और पेशकार


दुमका।

दुमका भ्रस्ट्राचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने बड़ी कार्रवाही करते हुए दुमका बंदोबस्त कार्यालय के सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उसके पेशकार राजीव रंजन मिश्रा को 15 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

शिकायतकर्ता शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र निवासी होपनी सुमनलता हांसदा ने दुमका एसीबी को जानकारी दी थी कि होपनी सुमन लता हांसदा और शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के रहने वाली बिटिया हांसदा के बिच दुमका बंदोबस्त कार्यालय में अंतिम प्रकाशन शिविर का मामला शिकारीपाड़ा में चल रहा था। केस में दोनों तरफ का बहस सुनने के बाद आवेदिका होपनी सुमनलता हांसदा आपतिबाद को दिनांक 31 जुलाई 2018 को आदेश पर रखा गया था।

इस संबंध पर जब शिकायतकर्ता होपनी सुमनलता हांसदा सहायक बंदोवस्त पदाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता से मिली तो सहायक बंदोवस्त पदाधिकारी ने शिकायतकर्ता होपनी सुमनलता हांसदा को पेशकार राजीव रंजन मिश्रा से मिलने को कहा गया। जिसमे पेशकार द्वारा कहा गया कि शिकायतकर्ता को 20 हजार रुपया घुस देना होगा जिसमे आपतिबाद केस में उसके पिता के जगह उसका नाम दर्ज कर दिया जायेगा।

जब शिकायकर्ता होपनी सुमन लता हांसदा ने पेशकार और सहायक बानोवस्त पदाधिकारी से अपने गरीबी का हवाला देते हुए कहा गया कि इतना रुपया हम नहीं दे सकते है तो घुस के रकम में 5 हजार कम देकर 15 हजार रुपया देने की बात पेशकार और सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी द्वारा कहा गया। जिसके बाद शिकायतकर्ता होपनी सुमन लता हांसदा ने इसकी शिकायत एसीबी से किया जहां जांच के बाद दुमका के बंदोवस्त कार्यालय से 15 हजार रुपया घुस लेते सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी और पेशकार को रंगे हाँथ गिरफ्तार किया गया। 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!