Global Statistics

All countries
339,676,265
Confirmed
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
271,046,154
Recovered
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
5,584,473
Deaths
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm

Global Statistics

All countries
339,676,265
Confirmed
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
271,046,154
Recovered
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
5,584,473
Deaths
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
spot_imgspot_img

राँची के बाद धनबाद मिशन ऑफ चैरिटी में गड़बड़ी, एक बच्चा गायब

Reported by: बिपिन कुमार 

धनबाद:

रांची निर्मल हृदय में नवजात बच्चों को बेचने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है कि धनबाद मिशन ऑफ चैरिटी में भी एक बच्चे का पता नहीं चल रहा है।

जांच के बाद हुआ खुलासा: 

मामला धनबाद के मेमको मोड़ अवस्थित मिशन ऑफ़ चैरिटी का है। जहाँ गुरुवार को जांच के लिए पहुंची बाल संरक्षण आयोग की टीम ने मिशन ऑफ चैरिटी के रजिस्टर में गड़बड़ी पकड़ी। रजिस्टर में नामित एक बच्चा कम मिला। 

मिशनरी ने कहा बच्चा परिवार को सौपा गया:

वहीं मिशन ऑफ चैरिटी का कहना है कि बच्चे को रांची के बालगृह संस्था को सौंपा गया है। हालांकि मिशन ऑफ चैरिटी के पास बच्चे को रांची भेजने की कोई रिसिविंग नहीं मिली है। वहीं दूसरी ओर मिशनरी में मौजूद सिस्टर का कहना है कि उस बच्चे को उसके परिवार को सौंप दिया गया था। इधर, आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एक जांच टीम गठित की है। जांच टीम पता लगा रही है कि वास्तव में बच्चा रांची बालगृह को दिया गया है या नहीं।

क्या है पूरा मामला:

धनबाद के मेमको मोड़ के हवाई पट्टी स्थित मिशन ऑफ चैरिटी पहुंची। वर्ष-2011- 2012 की जाँच बाल संरक्षण आयोग की टीम ने किया तो रजिस्टर जांच में एक बच्चा गायब मिला। टीम संस्था के हर वार्ड में जाकर बच्चों से मिली और उनका हालचाल लिया। संस्था में फिलहाल 18 दिव्यांग बच्चे हैं, जिनमें से 14 लड़कियां हैं। अध्यक्ष ने संस्था को लड़के-लड़की को अलग-अलग वार्ड में रखने का निर्देश दिया। साथ ही पूरे कैंपस में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश दिया गया। टीम ने किचन और बाथरूम का जायजा लिया। किचन में रखे फल, सब्जी और पानी तक की जांच की। पैकेट वाले खाने-पीने की चीजों की एक्सपायरी डेट की भी पड़ताल की गई। 

बाल संरक्षण आयोग की टीम जाँच करने पहुंची धनबाद: 

धनबाद के गोविंदपुर थाना क्षेत्र में के जी आश्रम स्थित पी के अवासीय संस्था में टीम को ताला लटका मिला। सीडब्ल्यूसी द्वारा उन्हें एक बच्चा सौंपा गया है। संचालिका पम्मी खातून से बात की गई, तो कहा गया कि बच्चे का इलाज कराने अस्पताल लेकर आई है। लेकिन काफी देर तक इंजतार करने के बाद भी वे नहीं लौटी, टीम को वहां जुवेनाईल जस्टिस एक्ट (जेजे एक्ट) का उल्लंघन मिला। अध्यक्ष ने कहा कि संस्था के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा भी धनबाद के कई अन्य जगहों पर भी जांच की गई है।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!