Global Statistics

All countries
529,070,560
Confirmed
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am
All countries
485,458,532
Recovered
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am
All countries
6,303,878
Deaths
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am

Global Statistics

All countries
529,070,560
Confirmed
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am
All countries
485,458,532
Recovered
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am
All countries
6,303,878
Deaths
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 11:46:21 am IST 11:46 am
spot_imgspot_img

पति था नापसंद, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिल उठाया ये खौफनाक कदम

 

रिपोर्ट: बिपिन कुमार

धनबाद:

5 जुलाई को बरवाअड्डा थाना क्षेत्र के शिव शंकर साव हत्याकांड का धनबाद पुलिस ने हत्याकांड के महज 48 घंटे के अंदर उद्भेदन कर लिया है।

इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी कृष्ण कुमार महतो समेत उसके दो अन्य सहयोगियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एसएसपी मनोज रतन चौथे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि हत्याकांड के महज कुछ घंटो में उद्भेदन कर लेना पुलिस के लिए महत्वपूर्ण सफलता है।

पुलिस ने 48 घंटे के अंदर किया हत्याकांड का उद्भेदन: 

वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतक की पत्नी शिव शंकर के साथ शादी करके खुश नहीं थी, इसलिए उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर शिव शंकर की हत्या की षड्यंत्र रची। योजना के अनुसार 2 जुलाई को शिव शंकर को पंचवटी से पार्टी समाप्त होने के बाद मृतक के चचेरे भाई जो की हत्या कांड में शामिल है, दयाल महतो के द्वारा मृतक को उसके मोटर साइकिल से कुबड़ीटाँड़  ले जाया गया। वहीं पर हाथ-पांव बांधकर निर्ममता पूर्वक उसकी हत्या धारदार हथियार से कर दी गई। उसके बाद उसके मोटरसाइकिल  रंगडीह  के पास ले गया और उस पुलिया के नीचे मोटरसाइकिल को फेंक दिया और वहीं के एक तालाब में हत्याकांड में प्रयुक्त किए गए हथियार को भी फेंक दिया। 

शिव शंकर का शव मिलने के बाद परिजनों ने बरवाअड्डा – धनबाद मुख्य मार्ग को जाम करके थाने का भी घेराव कर दिया काफी समझाने-बुझाने पर भी जब लोग नही माने तो पुलिस ने भीड़ पर लाठी चार्ज किया था। उस भीड़ का नेतृत्व कर रहे दयाल पर पुलिस को शक हुआ पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। पूछताछ में वह जल्दी टूट गया और हत्याकांड में अपनी सहभागिता स्वीकार कर ली। इसी तरह घटना परत-दर परत खुलती  चली गई । इसी क्रम में पुलिस ने मृतक की पत्नी को भी अरेस्ट कर लिया गया. उसने भी पूछताछ के क्रम में स्वीकार किया है कि उसने अपने पूर्व प्रेमी और अन्य मित्रों के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रची थी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!