Global Statistics

All countries
339,676,265
Confirmed
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
271,046,154
Recovered
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
5,584,473
Deaths
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm

Global Statistics

All countries
339,676,265
Confirmed
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
271,046,154
Recovered
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
All countries
5,584,473
Deaths
Updated on Thursday, 20 January 2022, 3:23:49 pm IST 3:23 pm
spot_imgspot_img

हजारों खर्च के बाद भी प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की हो गई मौत, सदमे में परिजन

रिपोर्ट: शिव कुमार यादव 

देवघर/सारठ:

सारठ थाना क्षेत्र के जमुवासोल पंचायत के बगदाहा गांव निवासी एक महिला की देवघर में प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो जाने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित परिजनों के हजारों रूपये खर्च होने के बावजूद भी घटी घटना से निजी क्लिनिक में मची लूट-खसोट की पोल खुल गई है।

घटना के संबंध में परिजन ने बताया कि बगदाहा गांव की सोना देवी गर्भवती थी। बीते सोमवार को प्रसव पीड़ा शुरू होने के बाद उन्हें परिजनों द्वारा ईलाज के लिए देवघर ले जाया गया, जहां चिकित्सक किरण झा के पास ईलाज कराया जा रहा था। लेकिन महिला की तबियत अचानक बिगड़ जाने के बाद उन्हें दुसरे चिकित्सक के पास भेेज दिया गया. महिला ने एक बच्चे को जन्म भी दिया। लेकिन जन्म लेने के कुछ देर बाद ही बच्चे की मौत हो गई। वहीं महिला की भी ईलाज के दौरान मौत हो गई।

कहते हैं परिजन:

मृतक महिला के ससुर दशरथ महतो और पति दिलीप यादव ने बताया कि सोनी देवी पिछले सात माह से अपने मायके गिरीडीह जिले के बेगाबांद थाना के आमाटांड़ में रहती थी। 15 दिन पहले ही ससुराल आई थी। जैसे ही उनको प्रसव पीड़ा शुरू हुई तुरंत चिकित्सक के पास देवघर ले गये। लेकिन ईलाज के दौरान जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई। इलाज में 20 हजार से अधिक का खर्च भी हुआ।लेकिन माँ-बच्चे की जान नहीं बच सकी. घटना की सूचना पर मृतका के पिता रामप्रसाद महतो, माता पुरनी देवी समेत अन्य लोग भी पहूंचे हुए थे।

 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!