Global Statistics

All countries
529,397,410
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am
All countries
485,727,453
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am
All countries
6,305,065
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am

Global Statistics

All countries
529,397,410
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am
All countries
485,727,453
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am
All countries
6,305,065
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:47:55 am IST 3:47 am
spot_imgspot_img

श्रावणी मेला के दौरान श्रद्धालुओं को मिलेगी बेहतर आवासन और भोजन की व्यवस्था

रिपोर्ट: राजकुमार 

देवघर:

राजकीय श्रावणी मेला 2018 की तैयारी ज़ोरों पर है. बाबाधाम आने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी न हो इसको लेकर जिला प्रशासन हर मुमकिन कार्य करने में लगी है. इसी क्रम में देवघर एसडीएम ने मेला को लेकर बैठक की. 

दर निर्धारण, गुणवत्ता व साफ-सफाई को लेकर चर्चा:

राजकीय श्रावणी मेला, 2018 के सफल संचालन और आगंतुक श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से अनुमण्डल पदाधिकारी, देवघर रामनिवास यादव की अध्यक्षता में भोजन की गुणवत्ता, उपलब्धता एवं दर निर्धारण को लेकर अनुमण्डल कार्यालय में बैठक आयोजित की गई। इस मौके पर प्रशिक्षु आईएएस हेमन्त सत्ती, जिला खाद्य आपूर्ति पदाधिकारी प्रवीण प्रकाश, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, देवघर रजनीश कुमार और अंचलाधिकारी, देवघर जयवर्द्धन कुमार सहित शहर के सभी भोजनालय एवं मिष्टान भंडार के मालिक उपस्थित थें।बैठक के दौरान श्रावणी मेले में भोजन का दर निर्धारण और गुणवत्ता व साफ-सफाई को लेकर विस्तृत चर्चा की गई।

भोजनालय एवं मिष्टान भंडार के मालिकों को निर्देश:

बैठक में अनुमण्डल पदाधिकारी द्वारा भोजनालय एवं मिष्टान भंडार के मालिकों को निदेशित करते हुए कहा गया कि मेले के दौरान भोजन के मूल्य व गुणवत्ता का अवश्य ख्याल रखें। बाबाधाम आने वाले सभी कांवरियों को साफ व स्वच्छ भोजन मुहैया करायें। खाने की गुणवत्ता के साथ-साथ थाली में परोसे जाने वाली सब्जी, दाल, भुजिया, चावल, पनीर आदि सामग्रियों की गुणवत्ता का भी पूरा ख्याल रखें। यदि किसी प्रकार की गड़बड़ी या खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता में कमी पायी जायेगी तो ऐसा करने वाले भोजनालय एवं मिष्टान भंडार के मालिकों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी। 

प्लास्टिक से बने किसी भी वस्तु का प्रयोग न करें: 

बैठक में एसडीएम द्वारा सभी को निदेशित किया गया कि प्लास्टिक से बने किसी भी वस्तु का प्रयोग अपने भोजनालय व मिष्टान भंडार में न करें। इसके अलावा होटल में आए श्रद्धालुओं को भोजन के साथ-साथ शुद्ध पेयजल भी मुहैया कराया जाय, ताकि वे बोतल बंद पानी लेने को मजबूर न हों। साथ ही निर्धारित दर पर हीं उन्हें खाद्य पदार्थ दिया जाय।

साफ़-सफाई का रखें ख़ास ख्याल: 

उन्होंने आगे कहा कि होटल के आस-पास एवं होटल के रसोईघर को साफ व स्वच्छ रखें एवं यह सुनिश्चित करें कि सभी भोजनालयों में डस्टबीन की व्यवस्था रहे। इसके अलावा गैस का प्रयोग सही तरीके से हो एवं सभी होटल स्टाफ को इससे संबंधित समुचित गाईडलाईन दिया जाय, ताकि जब यहां से कांवरियें अपने शहर को लौटें तो एक अच्छा संदेश लेकर जायें। उनके द्वारा बतलाया गया कि श्रावणी मेला के दौरान सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में फूड इन्सपेक्टर के द्वारा खाद्य समग्रियों की गुणवत्ता की जाँच की जायेगी। इसी क्रम में सभी भोजनालय के खाद्य पदार्थों के दर की समीक्षा किये जाने के बाद दर निर्धारित की गई।

अस्थायी दुकानदारों को भी निर्देश: 

कांवरिया पथ में बनाये जाने वाले सभी ढाबों व छोटे दुकान बनाने वालों को स्पष्ट निदेशित किया गया कि वे सुरक्षित जगह पर हीं अपनी अस्थायी दुकान लगायें एवं साफ-सफाई का भी पूरा ध्यान रखें। इसके अलावा उनके द्वारा अपने भोजनालय, ढाबा व मिष्टान भंडारों में शौचालय एवं शुद्ध पेयजल की व्यवस्था भी रखी जाय। साथ हीं जिला प्रशासन के द्वारा खाद्य सामग्रियों का जो दर निर्धारित किया गया है, वह अधिकतम दर होगा एवं सभी दुकानदारों द्वारा अपने-अपने दुकानों के सामने निर्धारित मूल्य तालिका लगाया जाय।

बैनर-पोस्टर पर होगी खाद्य पदार्थों की मूल्य तालिका:

बैठक के उपरांत एसडीएम ने जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी को निदेशित किया कि कांवरिया पथ एवं दुम्मा गेट के समीप बैनर-पोस्टर के माध्यम से खाद्य पदार्थों की मूल्य तालिका लगवाई जाय एवं स्वच्छता से संबंधित समुचित जानकारी का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाय।

कुछ खाद्य पदार्थों के मूल्य में सामान्य बढ़ोतरी की गयी, जिनकी सूची निम्न है-

1. आलू-परबल स्पेशल- 50रू+ 5रू = 55रू

2. मटर-पनीर स्पेशल- 80रू 10रू= 90रू

3. आलू-गोबी स्पेशल- 70रू+ 5रू=75 रू

4. पालक-पनीर स्पेशल- 100रू+10रू =110रू

5. पनीर-बटर मशाला स्पेशल- 100रू+ 10रू = 110रू

6. दाल प्लेन- 15रू+5रू = 20रू

7. दाल फ्राई- 30रू+ 5रू = 35रू

8. उसना चावल (150 ग्राम), दाल, सब्जी, भुजिया सहित चटनी- 50रू+ 5रू = 55रू 

9. अरवा चावल (150 ग्राम), दाल, सब्जी, भुजिया सहित चटनी- 50रू+5रू = 55रू 

10. अन्य भोजनालय – 45रू+ 5रू =50रू

होटल मालिकों के साथ भी बैठक:

वहीं, एसडीएम ने सभी होटल मालिकों के साथ भी बैठक की. जिसमें मेला के दौरान होटल के कमरे के किराया को लेकर चर्चा की गई. एसडीएम ने बताया कि मेला के दौरान सभी होटल मालिक अपनी सुविधानुसार एक रेट तय कर लें ताकि मेला में आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी होटल में ठहरने में कोई प्राॅब्लम न हो. साथ होटल परिसर में साफ-सफाई और शुद्ध पेयजल और गुणवत्तापूर्ण भोजन की व्यवस्था करने के लिए आवश्यक निर्देश दिए गए. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!