Global Statistics

All countries
233,303,612
Confirmed
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm
All countries
208,353,325
Recovered
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm
All countries
4,773,311
Deaths
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm

Global Statistics

All countries
233,303,612
Confirmed
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm
All countries
208,353,325
Recovered
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm
All countries
4,773,311
Deaths
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 10:36:05 pm IST 10:36 pm
spot_imgspot_img

क्या झारखण्ड को सांप्रदायिक हिंसा में झोंकने की चल रही साजिश! पुलिस मुख्यालय अलर्ट


रांची: 

झारखण्ड में नक्सलियों की धार तो कमजोर होती जा रही है. लेकिन अचानक सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं बढ़नी शुरू हो गई हैं। झारखण्ड के कई जिला गिरिडीह, हजारीबाग और रांची में हुई सांप्रदायिक हिंसा इसी बात के संकेत दे रहे हैं कि कोई नकारात्मक ताकत जरूर काम कर रही है जो राज्य की राजधानी समेत पूरे राज्य को सांप्रदायिक हिंसा में झोंक देना चाहती है। रांची में पिछले दो दिनों के अंदर हुई तीन वारदाते इस बात की ओर ही इशारा कर रही है। हालाँकि स्थिति तनावपूर्ण होने पर पुलिस और रैफ के जवान इलाके में गश्त कर रहे हैं।

रांची का माहौल तीन दिन से है बिगड़ा: 

इन दिनों राजधानी रांची भय के माहौल में है । अनहोनी की आशंका राजधानीवासियों को अपने आगोश में लिए हुए है। वहीं, हजारीबाग में बस स्टैंड पर हमला कर माहौल खराब करने की कोशिश, रांची के मेन रोड में भाजपा के जुलूस के दैरान एक समुदाय विशेष पर टिप्पणी के बाद हिंसा, ओरमांझी में लव जिहाद को लेकर तनाव और अब नगड़ी में प्रतिबंधित मांस को लेकर हुए पत्थरबाजी…. ये सारी तस्वीरें साफ बताती है कि कुछ लोग अमन और चैन को खत्म करने में लगे हुए है। हालांकि नगडी की स्थिति पर पुलिस ने नियंत्रण कर रखा है।

पिछले साल भी ईद के समय बिगड़ा था माहौल: 

राज्य में पिछले साल भी ईद के समय माहौल खराब करने की कोशिश की गई थी। खासकर जमशेदपुर और रांची को विशेष टारगेट किया गया था। इस दौरान जमशेदपुर में बच्चा चोरी की अफवाह के बाद कत्लेआम, हजारीबाग में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर हमला कर माहौल खराब करने की कोशिश, रांची के बड़गाई में फेसबुक पर समुदाय विशेष टिप्पणी के बाद हिंसा, बारात पर हमला, सुकुरहुटू में महिलाओं के साथ छेड़खानी के बाद हिंसा ,कांके में बच्चो की लड़ाई को साम्प्रादायिक रूप देकर ,माहौल को ख़ौफ़नुमा कर दिया गया था।

पुलिस मुख्यालय अलर्ट पर: 

राज्य में सांप्रदायिक हिंसा फ़ैलाने के लिए कोई ताकत अपनी नाकाम कोशिश में लगी है.  पुलिस मुख्यालय भी इस बात से इनकार नहीं करता है। राज्य के पुलिस प्रवक्ता आईजी आशीष बत्रा के अनुसार कुछ घटनाएं ऐसी हुई है, लेकिन आगे ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार इस बार ईद में कोई भी असामाजिक तत्व गड़बड़ी ना कर सके, इसके लिए राज्य भर में 5000 से अधिक पुलिस बलों को अधिकारियों के साथ तैनात किया गया है। खासकर जो इलाके काफी संवेदनशील है. वहीं विशेष सतर्कता बरती जा रही है. जवानों के अलावा झारखंड को 6 कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स की भी मिली है जो ईद के 1 दिन पहले हर संवेदनशील इलाकों में मोर्चा संभाल लेंगे। 

राज्य की जनता से अपील: 

आईजी आशीष बत्रा ने राज्य की जनता से अपील भी की है कि लोग शांति बनाए रखें अगर उन्हें कहीं भी किसी बात की सूचना मिलती है तो वे तुरंत 100 डायल पर सूचना दे। किसी तरह के अफवाहों पर ध्यान न दें. 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!