spot_img

पिछले डेढ़ साल से था इस गैंग का आतंक, मोबाइल लेकर लड़कियों का चलना था दुश्वार


रांची: 

रांची में पिछले डेढ़ सालों से सड़क पर आतंक मचाये हुए गैंग को आखिकार पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले ही लिया। इस गैंग के डर से रांची की सडकों पर महिलाओं और छात्राओं ने मोबाइल से बात करना छोड़ दिया था। रांची पुलिस की टीम ने मोबाइल चोरी करने वाले गिरोह के 6 सदस्य को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बाइक से करते थे छिनतई: 

रांची के कई थाना क्षेत्रों में यह गैंग चोरी की बाइक से छिनतई की घटनाओं को अंजाम दिया करता था। इस गैंग के निशाने पर वैसे ही महिलाएं और लड़कियां हुआ करती थी जो सड़क पर अपने फोन से बात करते हुए गुजरती थी.  मौका देख गैंग उनके मोबाइल और पर्स को झपट कर फरार हो जाता था। बुधवार के दिन भी इस गैंग के दो सदस्य रांची के कोतवाली थाना क्षेत्र से एक लड़की का मोबाइल छीन कर फरार होने की कोशिश कर रहे थे ।लेकिन मौके पर मौजूद पीसीआर के जवानों ने दोनों को खदेड़ कर पकड़ लिया। दोनों की गिरफ्तारी के बाद गिरोह के चार और सदस्यों को भी पकड़ लिया गया। सभी सदस्यों में मोहम्मद हसन उर्फ मौलवी, मोहम्मद तबरेज, मोहम्मद इमरान , मोहम्मद नाजिम , मोहम्मद आदिल अंसारी और मोहम्मद दानिश शामिल हैं।

इस गैंग ने लूटे थे हजार से ज्यादा मोबाइल: 

रांची के कोतवाली थाना प्रभारी श्यामानंद मंडल ने बताया इस गैंग ने पिछले डेढ़ सालों से राजधानी में आतंक मचा रखा था। गैंग के सदस्यों ने अब तक 1000 से अधिक मोबाइल की छिनतई की है. छिनतई के बाद यह मोबाइल को कम कीमत में बेच दिया करते थे। गिरफ्तार सभी अपराधियों को जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!