Global Statistics

All countries
245,621,946
Confirmed
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am
All countries
220,897,370
Recovered
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am
All countries
4,984,508
Deaths
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am

Global Statistics

All countries
245,621,946
Confirmed
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am
All countries
220,897,370
Recovered
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am
All countries
4,984,508
Deaths
Updated on Thursday, 28 October 2021, 12:55:37 am IST 12:55 am
spot_imgspot_img

शराब के लिए नहीं थे पैसे, जेलर ने कहा लूट लो स्टेशन


रांची: 

रांची के पोकला स्टेशन पर हुए लूटकांड का रेलवे पुलिस ने खुलासा कर लिया है। घटना में शामिल दो अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हालाँकि लूटकांड का मास्टरमाइंड अभी भी फरार है।

घटना 30 मई की देर रात की है. जहां तीन की संख्या में आए अपराधियों ने हथियार के बल पर स्टेशन मास्टर संजीव कुमार के साथ लूटपाट की थी। 

शराब के पैसे के लिए लूट: 

पोकला रेलवे स्टेशन पर हुए लूट की वारदात के बाद इसे नक्सली घटना करार दिया गया था। लेकिन जब इस मामले की जांच पुलिस ने की तो मामला अलग ही निकला। दरअसल, खूंटी के रहने वाले तीन युवको ने शराब के पैसे के लिए इस लूट को वारदात को अंजाम दिया था। पकड़े गए दो अपराधी में एक अमृत ने बताया कि वह अपने दोस्त सितुंग के साथ शराब पी रहा था। उसी समय उसके इलाके के एक अपराधी जिसे लोग जेलर के नाम से जानते हैं,मौके पर पहुंचा और उनके साथ बैठकर शराब पीने लगा। शराब खत्म होने के बाद तीनों ने और शराब पीने की बात कही। लेकिन उनके पास पैसे नहीं थे। इस पर आरोपी जेलर ने पोकला स्टेशन लूट लेने की साजिश रची। सहमति बनने के बाद तीनों एक साथ हथियार लेकर स्टेशन पहुंच गए और स्टेशन मास्टर के कमरे में प्रवेश कर हथियार के बल पर उनसे पैसे मांगने लगे। स्टेशन मास्टर संजीव कुमार ने अपराधियों को बताया कि उनके पास पैसे नहीं है इस पर तीनों ने उनके साथ मारपीट की और उनके मोबाइल फोन लूट कर फरार हो गए।

लूटा गया मोबाइल बरामद: 

पोकला स्टेशन से स्टेशन मास्टर के लूटे गए मोबाइल फोन को तीनों अपराधी लगातार इस्तेमाल कर रहे थे। मामले की जांच में लगी पुलिस को भी इसकी जानकारी मिली। जिसके बाद टेक्निकल सेल की मदद से तीनों का लोकेशन ट्रेस किया गया। तीनों का लोकेशन खूंटी के तोरपा का मिला। जिसके बाद खूंटी पुलिस के सहयोग से रेल पुलिस ने छापेमारी की. छापेमारी के क्रम में अपराधी जेलर फरार होने में कामयाब हो गया. मौके से दो अपराधी अमृत और सितुंग पकड़े गए. दोनों ने पुलिस के सामने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। पुलिस  मास्टरमाइंड जेलर की तलाश में लगी हुई है। जेलर एक हत्या के मामले में पहले भी जेल जा चुका है।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!