spot_img

अब, देवघर की सड़कों पर नहीं नज़र आयेगी स्कूली बच्चों की अनफिट गाड़ियां

रिपोर्टः राजकुमार 

देवघरः 

देवघर जिला में दर्जनों प्राईवेट स्कूलों के कई स्कूल बस या चार पहिया वाहन ऐसे हैं, जो फिट नहीं है. फिर भी नियम-कानून को ताक पर रख बच्चों को ढो रहे हैं. और मां-बाप पैसे देकर भी बच्चों की सुरक्षा को लेकर डरे-सहमे से हैं. लेकिन अब एक भी अनफिट गाड़ियां देवघर की सड़कों पर नहीं दौड़ेगी. 

अब रास्ते से ही खींच लिये जायेंगे अनफिट वाहनः 

कई बार ऐसा देखा जाता है कि फिटनेस सही नहीं रहने के बावजूद भी स्कूली बच्चों को उस वाहन से ढोया जा रहा है. परिणाम यह होता है कि कभी स्कूली वाहन का ब्रेक फेल हो जाता है तो कभी अन्य कारणों से स्कूली वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाती है. ऐसे में सबसे ज्यादा बच्चों को सफर करना होता है. लेकिन अब अनफिट वाहनों को सड़क पर दौड़ते देखा गया तो रास्ते से ही खींच लिया जायेगा. 

चलाया जा रहा अभियानः 

देवघर जिला परिवहन पदाधिकारी प्रेमलता मुर्मू द्वारा अनफिट स्कूली वाहनों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया जा रहा है. देवघर डीटीओ ने  बताया कि जितने भी विद्यालय हैं और उसमें जो वाहन बच्चों को ढोने का काम करती है उस विद्यालय में जाकर वाहन का नम्बर लेकर आॅन लाईन चेक किया जा रहा है. जिसमें कुछ कमियां पायी जा रही है तो नोटिस किया जा रहा है. नोटिस देने के बाद भी अनफिट गाड़ी अगर नियमों का पालन नहीं करेंगें तो फिर उस गाड़ी को खींचने का काम किया जाएगा. साथ ही गाड़ी पर कानूनी कार्रवाही भी की जाएगी. 

वाहनों की हुई जांचः

अभियान के तहत डीटीओ द्वारा देवघर-जसडीह मुख्य मार्ग पर स्कूली वाहनों की चेकिंग अभियान चलायी गयी. डीटीओ ने कहा कि यह अभियान अभी लगातार जारी रहेगा. नियमों का पालन नहीं करने वाले गाड़ियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!