spot_img

सरकारी अस्पताल का निर्माण करा रहे मुंशी की हत्या

रिपोर्ट: बिपिन कुमार 

 धनबाद: 

नक्सल प्रभावित इलाका टुंडी के मानियाडीह में सरकारी अस्पताल का निर्माण करा रहे मुंशी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। मुंशी के शव के पास नक्सली पर्चा बरामद होने के कारण नक्सलियों द्वारा हत्या की आशंका जताई जा रही है, लेकिन पुलिस इस बात से इंकार करते हुए इसे महज आपसी रंजिश में हत्या बता रहे हैं।  

अस्पताल निर्माण कार्य में लगे थे मुंशी:

पश्चिमी टुंडी के मानियाडीह थाना के समीप सरकारी अस्पाताल का  भवन निर्माण कर रहे मुंशी का शव कुंआ से बरामद किया गया। स्थानीय लोगों द्वारा कुंए के ऊपर और आसपास खून के छींटे देखे जाने के बाद इसकी सुचना पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंचकर झग्गड से कुए की तलाशी ली। तलाशी के बाद पुलिस द्वारा कुंए में शव की आशंका होने पर शव को कुंए से बाहर निकाला गया। शव देखकर ऐसा प्रतीत होता है जैसे गले एवं सिर पर धारदार हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी गई है। मुंशी का नाम शनिचर महतो है। वह नावाडीह बोकारो का रहने वाला बताया जा रहा है। 

आपसी रंजिश में हत्या: ग्रामीण एसपी

ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर इसे आपसी रंजिश में हत्या बता रहे हैं। ग्रामीण एसपी का कहना है कि नक्सली हत्या का रूप देने के लिए घटना स्थल पर किसी के द्वारा पर्चा रखा गया है। 

इलाके में है जोरों पर चर्चा :

घटना के बाद इलाके में चर्चा का बाजार गर्म है। पर्चे को लेकर लेकर लोग नक्सलियों द्वारा हत्या करने की चर्चा कर रहे हैं। लोग यह आशंका जता रहे है कि भवन निर्माण में नक्सलियों को लेवी की राशि नहीं देने के कारण ही यह हत्या हुई है. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!