spot_img

पूल निर्माण कार्य में गड़बड़ी को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने अभियंता को बनाया बंधक

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA

रिपोर्ट: शिव कुमार यादव

देवघर/सारठ:

विशेष प्रमंडल द्वारा साढ़े सात करोड़ की लागत से अजय नदी के सारठ-दुनवाडीह घाट पर बनाये जा रहे उच्चस्तरीय पूल निर्माण कार्य में गड़बड़ी व संपर्क पथ निर्माण कार्य में बरती जा रही अनियमितता को लेकर शुक्रवार को ग्रामीणों ने गहरा विरोध जताया और कार्यस्थल पर मौजूद विभागीय अभियंता सुर्यप्रकाश चौधरी को घंटो बंधक बनाये रखा।

आक्रोशित ग्रामीणों ने अभियंता को खुब खरी-खोटी भी सुनाई। ग्रामीणों का कहना था कि पूल निर्माण कार्य में गड़बड़ी को लेकर चार दिन पूर्व से ही निर्माण कार्य को रोका गया है। लेकिन शुक्रवार को सहायक अभियंता अपनी मौजूदगी में मजदूरों से काम करा रहे थे। जिसे देख ग्रामीण कार्य स्थल पर पहूंचे और अभियंता को बंधक बनाया।

बताते चलें कि उक्त पूल निर्माण कार्य 60 फीसदी से अधिक हो चुंका है। बरसात से पहले शेष कार्य पुर्ण कर कई गांव के ग्रामीणों को सहुलियत देने की भी बात कही गई थी। लेकिन विवाद के कारण समय पर पुल निर्माण होना संभव नहीं लग रहा है।

बुलावे पर पहूंचे मंत्री, अभियंता को लगाई फटकार:

ग्रामीणों द्वारा कार्य बंद कराने के बाद भी अभियंता द्वारा निर्माण कार्य शुरू करने की सूचना देने पर कृषि मंत्री रंधीर सिंह ने कार्य स्थल पर पहूंचकर ग्रामीणों से जानकारी ली। वहीं अभियंता को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि यदि कार्य में गड़बड़ी मिली तो कार्रवाई होगी। मंत्री ने टेढ़े-मेढ़े संपर्क पथ को तोड़ कर नये सिरे से सीधी सड़क बनाने के बाद ही पूल का कार्य करने का निर्देश दिया। मंत्री ने कहा कि कार्य में हुई गड़बड़ी की भी जांच करायेंगे। 

क्या कहते है ग्रामीण:

ग्रामीणों का कहना है  कि संवेदक व विभाग के अधिकारी द्वारा निर्माण कार्य में प्राक्कलन की अनदेखी की जा रही है। जहां-तहां जैसे-तैसे संपर्क पथ बनाया जा रहा है। निर्माण कार्य पर रोक लगाने के बाद भी काम कराया जा रहा था। 

ग्रामिन

सिर्फ पानी दिला रहे थे: अभियंता

एई सूर्यप्रकाश चौधरी ने बताया कि सिर्फ रेलिंग में पानी दिलवा रहे थे। किसी प्रकार का कार्य नहीं हो रहा था। इसी बीच कुछ ग्रामीण पहूँचकर हो हंगामा करने लगे। उन्हें बन्धक बना लिया गया. 

 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!