spot_img

झारखण्ड बचाओ संग्राम समिति ने आंदोलन का बिगुल फूंका

रिपोर्ट: बिपिन कुमार  

धनबाद: 

धनबाद के सिंदरी एफसीआई हर्ल के खिलाफ सिंदरी में झारखण्ड बचाओ संग्राम समिति ने आंदोलन का बीगुल फूंक दिया है. सिंदरी में एफसीआई गेट पर झारखण्ड बचाओ संग्राम समिति ने एक महाधरना का आयोजन किया. जिसमें हजारों की संख्या में स्थानीय महिला पुरुष ने स्थानीय लोगों को रोजगार देने की मांग को लेकर जोरदार आंदोलन कर चेतावनी दी है.  

महराष्ट् और बंगाल के मजदूर कर रहे काम: 

सिंदरी उर्वरक फैक्ट्री के खुलने के घोषणा के बाद सरकार ने हर्ल को सिंदरी फैक्ट्री को चलने का जिम्मा दिया था. जिसके बाद एमपीसी बिजनेस प्राइवेट लिमिटेड को स्क्रैप कटाने का जिम्मा मिला. कंपनी स्थानीय मजदूरों को लेने के बजाये महाराष्ट्र और बंगाल के 350 मजदुरों को इस काम के लगा रही है. जिससे नाराज़ स्थानीय लोगों ने स्थानीय बेरोजगार मजदूरों को काम पर रखने की मांग को लेकर जोरदार आंदोलन कर हर्ल को चेतावनी दी है. 

जीप सदस्य ने दी 15 दिनों की चेतावनी: 

जीप सदस्य अशोक सिंह ने कहा कि अगर 15 दिनों के अंदर प्रबन्धक स्थानीय बेरोजगार को नियोजन नहीं देता है तो जो बाहर के मजदूर अभी सिंदरी एफसीआई हर्ल में काम कर रहे हैं. वैसे मजदूरों को खदेड़ने का काम करेंगे.  

डोमगढ़ के लोगों को पुनर्वास करने की मांग

जीप सदस्य अशोक सिंह ने स्थानीय बेरोजगार और सिंदरी डोमगढ़ के लोगो के पुनर्वास करने की मांग की. साथ ही कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी हर्ल फैक्ट्री का शिलान्यास करने आ रहे हैं. उनसे भी एक ही मांग होगी कि पहले स्थानीय बेरोजगार को रोजगार मिले फिर कही और के मजदूरों को रोजगार दिया जाये. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!