spot_img

देश भर के नामचीन नेत्ररोग विशेषज्ञों का गिरिडीह में जुटान

रिपोर्ट: अभिषेक 

गिरिडीह : 

झारखण्ड ओफ्थाल्मोलॉजिकल सोसाइटी के नेतृत्व में गिरिडीह ओफ्थाल्मोलॉजिकल सोसाइटी द्वारा नेत्र चिकित्सा पर भव्य सेमिनार का आयोजन रविवार को ऑर्बिट होटल में आयोजित किया गया.

इस सेमिनार में झारखण्ड के कई नेत्र चिकित्सकों ने भाग लिया. सेमिनार में रांची से आई प्रख्यात चिकित्सक डॉ. भारती कश्यप को नारी शक्ति पुरस्कार पाने के लिए सम्मानित किया गया.

भारती

► इस सेमिनार में डॉ. भारती कश्यप ने फेमटो लेज़र कैटरेक्ट सर्जरी पर अपना शोध पत्र प्रस्तुत किया. इस दौरान उन्होंने बताया कि किस प्रकार से फेमटो लेज़र कैटरेक्ट सर्जरी परम्परागत फेको कैटरेक्ट सर्जरी से बेहतर है.

► सेमिनार में डॉ. मलय वर्मा ने बाहर की ओर मुडी पलक के सर्जिकल मैनेजमेंट पर अपना पेपर प्रस्तुत किया. 
► वहीं डॉ. सुजोय सामंता ने फेको विथ फ्लॉपी आईरिस पर अपने विचार रखें. 

► इधर डॉ. राजीव गुप्ता ने ग्लुलेस एंड सुचारलेस ट्रेजियम सर्जरी पर अपना पेपर प्रस्तुत किया.
► इसी तरह डॉ. लव कोचगव्य ने बच्चों की आँखों में होने वाले चोट एवं बच्चों की आँखों के चश्मे का नंबर कैसे निकाले, किस प्रकार से करें उसके ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया. 
► सेमिनार में डॉ. अन्नेश सरकार ने ए केस ऑफ़ रिकरेन्ट उप्पर आइलीड ग्रेन्युलोमा के ऊपर अपना प्रजेंटेशन दिया. 
► डॉ. अलोक रंजन ने अ केस ऑफ़ ऑर्बिटल हिमैनज्योमा ऑर्बिट के ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया. 
► डॉ. स्वपन सामंता ने रेलिवेंस ऑफ़ दि डिस्कशन ऑफ़ कम्युनिटी ओफ्थाल्मोलोजी इन झारखण्ड के ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया तो,
► डॉ. सौम्या राय ने आँखों की लेप्रोसी के ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया.
► डॉ. पुर्बन गांगुली ने रिसर्च अवेयरनेस फॉर पोस्ट ग्रेजुएट्स ऑफ इंडिया के ऊपर अपनी बातें रखी.
► डॉ. बी. एन. गुप्ता ने रीसेंट ट्रेंड इन मेडिकल मैनेजमेंट ऑफ़ ग्लूकोमा के ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया.
► डॉ. सोमदत्त प्रसाद ने करंट मैनेजमेंट ऑफ़ डायबिटिक एवं रेटिनोपैथी ऑफ़ एस.एफ. IOL के ऊपर अपना पेपर प्रस्तुत किया. 
► डॉ. वरुण नायक ने ग्लूकोमा पर अपना पेपर प्रस्तुत किया. 

कुल मिलाकर देश भर के प्रख्यात चिकित्सकों की उपस्थिती से यह कार्यक्रम बेहद सफल रहा. निश्चित ही भविष्य में नेत्र रोग के शोध में यह कार्यक्रम मिल का पत्थर साबित होगा.

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!