spot_img

काम पर लौटे जूनियर डॉक्टर्स, मरीजों को मिली राहत

रिपोर्ट: बिपिन कुमार 

धनबाद : 

धनबाद के पीएमसीएच में गुरूवार की रात हुए लाठीचार्ज के विरोध में जूनियर डॉक्टरों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की थी. शनिवार को जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल की समाप्ति डीसी, एसएसपी और डॉक्टर्स के बीच वार्ता के बाद हुई. 

शनिवार को विरोध में पीएमसीएच अस्पताल के ओपीडी परिसर में जुनियर डॉक्टरों ने तालाबंदी कर दिया था. जूनियर डॉक्टर सरायढेला थाना प्रभारी को हटाने की मांग जिला प्रशासन से कर रहे थे, साथ ही इस मामले की पीएमओ से शिकायत करने की बात भी जूनियर डॉक्टरों ने कही थी. वहीं पीएमसीएच की ओपीडी सेवा बाधित रहने से मरीजों को परेशान होता देखा जा रहा था. 

गुरूवार को जूनियर डॉक्टर और मरीज़ के परिजनों के बीच हो रहे हंगामे में पुलिस द्वारा जूनियर डॉक्टरों पर लाठीचार्ज का आरोप है. इस घटना को लेकर जूनियर डॉक्टरों ने सरायढेला थाना प्रभारी को हटाने की मांग की है. DC, SSP और डॉक्टर्स के बीच हुई वार्ता के बाद जूनियर डॉक्टरों द्वारा हड़ताल समाप्त करने पर सहमती बनी. 

वार्ता में जूनियर डॉक्टर्स ने पिकेट बनाने और सरायढेला थाना प्रभारी को हटाने की मांग की. वहीं नीरज सिंह हत्याकांड मामले में थाना प्रभारी के आईओ होने के कारण थाना प्रभारी को फ़िलहाल हटाया नहीं जा सकता है. पुलिस पिकेट बनाने का आश्वासन डीसी ने दिया है. 

वहीं जूनियर डॉक्टरों के काम पर वापस लौटने से मरीजों ने राहत की साँस ली है. इलाज कराने के लिए अब उन्हें दूर जाने की ज़रूरत नहीं है. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!