spot_img

पहले की शादी फिर घर से निकाला, पुलिस ने नहीं सुनीं शिकायत तो CM से पीड़िता लगा रही गुहार

रिपोर्ट: बिपिन कुमार 

धनबाद:

धनबाद के सिंदरी थाना क्षेत्र की एक 22 वर्षीय युवती ने मनोहरटांड़ के एक युवक के खिलाफ शादी का झांसा देकर यौन शोषण की शिकायत सिंदरी थाना में देने के बाद भी जब थाना में मामला दर्ज नहीं किया गया तो पीड़िता ने थक हार कर मुख्यमंत्री जनसंवाद में लिखित शिकायत दर्ज कराई और मिडिया के समक्ष अपनी पीड़ा बताया. 

क्या है पूरा मामला: 

आरोप है कि धनबाद के सिंदरी थाना में पड़ने वाला मनोहरटांड़ निवासी सुजय महतो उर्फ मिथुन महतो द्वारा पीड़िता को शादी का झांसा देकर यौन शोषण कई महीनो तक किया गया. पीड़िता बताती है कि दो साल से उन दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था. प्यार का झूठा वादा कर सुजय 10 जून 2017 को उसे सूरत ले गया वहां उसने एक मंदिर में शादी की और नौ माह  घर में भी रखा. उसके बाद वह उसे लेकर गांव आ गया. लेकिन कुछ ही दिनों में ससुराल वालों ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया. इतना ही नहीं पति और सास-ससूर ने मिलकर उसका गर्भपात भी कराया. जिसके बाद पीड़िता थाना पहुंची जहाँ इंसाफ न मिलता देख पीड़िता ने मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र में शिकायत दर्ज कराई. 

पुलिस पर मामला नहीं दर्ज करने का आरोप: 

युवती के अनुसार उसने छह मार्च को सिंदरी थाना में शिकायत की थी, लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया. जब पीड़िता ने अपनी शिकायत सिंदरी थाना को दी तो पीड़िता का शिकायत लेने से इंकार कर दिया गया. थक-हार कर पीड़िता ने मुख्यमंत्री जनसंवाद में शिकायत की तो वहाँ से पीड़िता से केस नंबर की मांग की गयी. लेकिन जब सिंदरी थाना में केस ही नहीं लिया गया तो केस नंबर पीड़िता कहाँ से लाये. अब पीड़िता मिडिया के पास अपनी गुहार लगाकर इंसाफ मांग रही है. 

पुलिस दोनों पक्षों को कर रही है समझाने का प्रयास: 

वहीं इस सम्बन्ध में जब सिंदरी थाना प्रभारी से मामले की जानकारी ली गई तो थाना प्रभारी ने कहा कि दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है, वही थाना प्रभारी कुछ भी बालने से बचते नज़र आयें. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!