Global Statistics

All countries
200,703,885
Confirmed
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am
All countries
179,099,869
Recovered
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am
All countries
4,265,900
Deaths
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am

Global Statistics

All countries
200,703,885
Confirmed
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am
All countries
179,099,869
Recovered
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am
All countries
4,265,900
Deaths
Updated on Thursday, 5 August 2021, 12:45:37 am IST 12:45 am
spot_imgspot_img

पांच राज्यों की पुलिस को थी तलाश, कुख्यात पति-पत्नी गिरफ्तार

रिपोर्ट: बिपिन कुमार 

धनबाद :

धनबाद पुलिस  ने पांच राज्यों के मोस्ट वांटेड कुख्यात नक्सली नेता राजेश टुड्डू उर्फ़  प्रभाकर उर्फ़ फूलचन्द और उसकी पत्नी मुगली मुर्मू को आईवीएफ सिटी सेंटर से गुप्त सूचना पर  गिरफ्तार करने में सफलता पाई है.

पति-पत्नी दोनों ही नक्सली संगठन से जुड़े हुए थे. दोनों पति-पत्नी पर 40 लाख का इनाम था. हार्डकोर प्रभाकर और उसकी पत्नी को धनबाद पुलिस आज चाईबासा पुलिस को सौंप दिया. प्रभाकर टुडू जीतपुर थाना मनियाडीह का रहने वाला है. प्रभाकर टुडू जो कि कई सोनवा ,फूलचंद,राजेश ,हरीश इन कई नामो से जाना जाता है. 

नक्सली

 कई राज्य की पुलिस को थी तलाश: 

प्रभाकर के नक्सली घटनाओ पर नजर डालें  तो  कुल 22 मामले चाईबासा में दर्ज हैं, इसके अलावा झारखंड, बिहार, बंगाल , छत्तीसगढ़ , उड़ीसा के दर्जनों बड़े नक्सली घटनाओ में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल  है. इस  नक्सली ने 1991 – 92 में  नक्सली संगठन से जुड़ कर स्थानीय क्षेत्र में 1992 से 1996 तक कार्यरत रहा और संगठन के विस्तार में रुचि होने के कारण 1997-98 में रांची के बुंड्डू क्षेत्र में पार्टी के लिए प्रचार-प्रसार एवं संगठन का कार्य सक्रिय रुप से किया. वर्ष 2001 में पश्चिम सिंहभूम के सारंडा क्षेत्र में नक्सलवाद के विस्तार में अग्रणी भूमिका निभाई, सारंडा क्षेत्र में नक्सलवाद के जनक के रूप में राजेश संथाल का नाम जाना जाता है इस बीच सारंडा के कई बड़ी उग्रवादी वारदातों में शामिल रहा.

पति-पत्नी दोनों हार्डकोर नक्सली: 

वर्ष 2006 में प्रभाकर की शादी उर्फ़ सुनीता उर्फ़ संतोषी उर्फ़ अंकिता उर्फ़ मुगली  मुर्मू  नामक महिला नक्सली से सारंडा में हुई थी. वर्ष 2007 से इस एस ए सी पार्टी द्वारा दिया गया. वर्तमान में पत्नी की बीमारी के कारण मनियारी थाना क्षेत्र के जीतपुर एवं अन्य जगह में रहकर अपनी पत्नी का इलाज करा रहा था. पत्नी मोगली मुर्मू, सुनीता, संतोषी,अंकिता उर्फ़ सोनवा टुडू कई नामो से जानी जाती है. मोगली मुर्मू1991 – 92 से नक्सली संगठन में अग्रणी भूमिका निभा रही थी. यह सारंडा, पारसनाथ ,दुमका क्षेत्र में नक्सली गतिविधियों में लिप्त रहते हुए पार्टी का प्रचार-प्रसार करते हुए पैठ बनाने में सक्रिय भूमिका निभाती आई है. मोगली मुर्मू 1993 से संगठन के सदस्य के रूप में विभिन्न स्थानों पर कार्यकर्ता एवं क्षेत्र में नक्सली गतिविधियों में लिप्त पार्टी का प्रचार-प्रसार करते हुए आम जनता में जेआरसी की मनोनीत सदस्य है. 

धनबाद पुलिस को मिली सफलता: 

धनबाद जीतपुर का रहने वाला प्रभाकर टुडू जो कि कई नामो से जाना जाता है. बुधवार को अपनी पत्नी का इलाज करवाने आईवीएफ सेंटर में आया हुआ था. उसी दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ गया. धनबाद पुलिस गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. उसके बाद धनबाद पुलिस चाईबासा पुलिस को इन दोनों को सौपेगी. 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!