Global Statistics

All countries
176,114,494
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm
All countries
158,326,060
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm
All countries
3,802,239
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm

Global Statistics

All countries
176,114,494
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm
All countries
158,326,060
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm
All countries
3,802,239
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 7:19:34 pm IST 7:19 pm
spot_imgspot_img

पहली बार देवघर में झारखंड स्टेट आईएमए कान्फ्रेंस


देवघरः

झारखंड स्टेट आईएमए कान्फ्रेंस का आयोजन पहली बार देवघर में किया गया है. डाॅ0 ए. के चटर्जी की पुण्य स्मृति में कान्फ्रेंस का आयोजन संताल परगना के देवघर जिले में हुआ है. 

confrance n7
शनिवार की देर शाम झारखंड स्टेट आईएमए कान्फ्रेंस की शुरूआत झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी और श्रम मंत्री राजपलिवार द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया. देवघर आईएमए द्वारा अतिथियों का स्वागत अंगवस़्त्र और बुके देकर किया गया. इस मौके पर झारखंड आईएमए कान्फ्रेंस 2017 नामक पुस्तिका का भी विमोचन दोनों मंत्री के हाथों हुआ. 
कान्फ्रेंस के दौरान झारखंड के श्रम मंत्री राज पलिवार ने कहा कि झारखंड की रघुवर सरकार डाॅक्टरों के साथ खड़ी है. डाॅक्टरों की सुरक्षा के लिए डाॅक्टरों के संरक्षण का बिल कैबिनेट के अन्दर पास किया गया, विधानसभा के भी अन्दर लाया गया, लेकिन विपक्ष के कुछ लोग यह नहीं चाहते थे कि डाॅक्टरों के लिए संरक्षण का बिल पास हो, इसलिए वह प्रवर समिति को चला गया है. मंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में जब विधानसभा आहूत होगा तो रघुवर सरकार डाॅक्टरों के संरक्षण का बिल विधानसभा से पास कर डाॅक्टरों को सम्मान करने का नायाब तरीका अपनायेगी.

doct
आईएमए कान्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी ने बताया कि आने वाले दिनों में झारखंड के डाॅक्टरों के लिए जल्द ही मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट पारित किया जाएगा.
स्वास्थ्य मंत्री ने यह बताया कि बिहार की तर्ज पर झारखंड में भी 67 वर्ष की उम्र तक डाॅक्टर अपनी सेवा अस्पतालों में दे सकेंगें. जिसको लेकर मुख्यमंत्री से बात की गयी है. जल्द ही यह प्रस्ताव झारखंड के मुख्यमंत्री द्वारा पारित किया जाएगा. जिन डाॅक्टरों का कोई बकाया है वह अपना आवेदन दें उनका बकाया जल्द ही भुगतान कर दिया जाएगा. ग्रामीण क्षेत्रों में कार्य करने वाले डाॅक्टरों को भत्ता देने के विषय पर कार्रवाही शुरू कर दी गयी है. 
बता दें कि देवघर में आयोजित दो दिवसीय झारखंड स्टेट आईएमए कान्फ्रेंस में राज्य और राष्ट्र के विभिन्न कोनों से अपने-अपने क्षेत्र के विद्वान डाॅक्टर्स पहुंचे हैं. जिनके द्वारा विभिन्न स्वास्थ्य संबंधित मसलों पर प्रकाश डाले जा रहे हैं. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles