Global Statistics

All countries
263,605,290
Confirmed
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
236,154,041
Recovered
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
5,239,758
Deaths
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am

Global Statistics

All countries
263,605,290
Confirmed
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
236,154,041
Recovered
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
5,239,758
Deaths
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
spot_imgspot_img

झारखण्ड के कृषि मंत्री पर पीसीआर


देवघर :

सूबे के कृषि मंत्री रणधीर सिंह की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही है. कृषि मंत्री के खिलाफ़ एक मुखिया ने मधुपुर अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में शिकायतवाद दर्ज करवाया है.जिसमे मुखिया ने कहा की मंत्री ने न केवल भद्दी भद्दी गालियाँ दी हैं बल्कि जाती सूचक शब्द का भी प्रयोग किया है.

पूरा मामला मंत्री के विधानसभा सारठ के एक पंचायत अलवारा के मुखिया जयदेव महरा से जुड़ा है. जयदेव का आरोप है की 13 अक्टूबर की शाम को सारठ प्रखंड के प्रमुख के आवास पर कृषि मंत्री ने उन्हें बुलाया और उनके खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया. इसके बाद उन्होंने सारठ थाना को लिखित आवेदन भी दिया लेकिन मामला दर्ज नहीं किया गया. उसके बाद उन्होंने अपनी शिकायत लेकर देवघर जिले के एसपी ए विजयालक्ष्मी से भी मुलाकात की. अंत में जब उन्हें न्याय की आस नहीं नजर आई तब उन्होंने मधुपुर में सब डिविजिनल जुडिशल मजिस्ट्रेट के यहाँ केस दर्ज कराया है.

इसे भी पढ़ें: कृषि मंत्री पर अभद्र भाषा के प्रयोग का आरोप

मंत्री और उनके बॉडी गार्ड ने धमकाया फिर सादे कागज पर दस्तखत भी लिया: 

महरा ने कहा की जैसे ही मंत्री को यह पता चला की वो पुलिस के पास गए है. वैसे ही उनके घर देर रात उन्हें धमकाया  गया. इतना ही नहीं जोर जबरदस्ती से उनसे कुछ सादे कागज पर हस्ताक्षर भी करवाया गया.उन्होंने कहा की मंत्री ने साफ़ कहा की अगर उनके खिलाफ गए तो पूरा जीवन  जेल की सलाखों के पीछे गुजर जाएगा.

सामाजिक कार्यकर्त्ता ज्यां द्रेंज पर भी भडक गये थे सिंह:

कृषि मंत्री इससे पहले सामाजिक कार्यकर्ता और प्रसिद्ध अर्थशास्त्री ज्यां द्रेज के साथ दुर्व्यवहार मामले में काफी चर्चा में आए थे. राजधानी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने ज्यां द्रेज के खिलाफ अभद्र भाषा का भी प्रयोग किया और उन्हें देख लेने की धमकी भी दी थी.

पहले थे झाविमो के विधायक,बाद में हुए बीजेपी में शामिल:

मंत्री सिंह ने 2014 में हुए विधानसभा इलेक्शन में झारखण्ड विकास मोर्चा के टिकट से जीता है.जैसे ही राज्य में बीजेपी की सरकार बनी सिंह ने अपने साथियों के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया. उनके खिलाफ अभी भी झारखण्ड असेंबली स्पीकर दिनेश उरांव की अदालत में दल बदल से जुड़ा मामला लंबित है.

इस बाबत कृषि मंत्री से संपर्क करने की कोशिश की गयी लेकिन उन्होंने किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!